Zaroori Tha (जरूरी था ) Rahat Fateh Ali Khan – Lyrics

Rahat Fateh Ali Khan का यह गाना उनके अपने ही ऑफिसियल यूट्यूब चैनल Ustad Rahat Fateh Ali Khan PME से रिलीज़ किया गया है जिसका नाम है – जरूरी था (Zaroori Tha) | निचे आप इस गाना को सुन सकते है –

Roi Na Jo Yaad Meri Aayi (Vicky Singh) Lyrics

तेरी आँखों के दरिया का उतरना जरुरी था – लिरिक्स

लब्ज कितने ही तेरे पैरो से लिपटे होंगे
तूने जब आखिरी खत मेरा जलाया होगा
तूने जब फूल किताबो से निकाले होंगे
देने वाला भी तुझे याद तो आया होगा
तेरी आँखों के दरिया का उतरना भी जरुरी था
मोहब्बत भी जरुरी थी बिछड़ना भी जरुरी था
जरुरी था की हम दोनों तवाफ ई आरजू करते
मगर फिर आरजुओं का बिखरना भी जरुरी था
तेरी आँखों के दरिया का उतरना भी जरुरी था

[म्यूजिक..]

बताओ याद है तुमको वो जब दिल को चुराया था
चुराई चीज को तुमने खुदा का घर बनाया था
वो जब कहते थे मेरा नाम तुम तस्वीर में पढ़ते हो
मोहब्बत की नमाजो को करार करने से डरते हो
मगर अब याद आता है वो बाते थी महज बाते
कही बातो ही बातो में मुकरना भी जरुरी था
तेरी आँखों के दरिया का उतरना भी जरुरी था

[म्यूजिक..]

वही है सूरते अपनी वही मैं हूँ वही तुम हो
मगर खोया हुआ हूँ मैं मगर तुम भी कहीं गुम हो
मोहब्बत में दगा की थी सो काफिर थे सो काफिर है
मिली है मंजिले फिर भी मुसाफिर थे मुसाफिर है
तेरे दिल के निकाले हम कहाँ भटके कहाँ पहुंचे
मगर भटके तो याद आया भटकना भी जरुरी था
मोहब्बत भी जरुरी थी बिछड़ना भी जरुरी था
जरुरी था की हम दोनों तवाफ ई आरजू करते
मगर फिर आरजुओं का बिखरना भी जरुरी था
तेरी आँखों के दरिया का उतरना भी जरुरी था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *