Dil Ke Jakham

Dil Ke Jakham (Vishal Gagan) Lyrics

Vishal Gagan का यह दर्दभरा गाना Aadishakti Films यूट्यूब चैनल से रिलीज़ किया गया है जिसका नाम है – दिल के जख्म (Dil Ke Jakham) | इस गाना को लिखे है बलिराम बिधाता जी जबकि म्यूजिक दिए है गुलाम रवि जी | निचे आप इस गाना का वीडियो देख सकते है –

Badnaam Bhaini Tohre Naam Se – Neelkamal Singh – Lyrics

मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी – लिरिक्स

अपनो ने जहर का जाम दे दिया
गैरो ने बेवफा नाम दे दिया
वो जो कहते थे भूल न जाना हमें
आज उन्होंने भरी महफ़िल में अनजान कह दिया

तोहरा शादी के कवनो सगुन भेज दी
तोहरा शादी के कवनो सगुन भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी
तोहरा शादी के कवनो सगुन भेज दी
तोहरा शादी के कवनो सगुन भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी

[म्यूजिक..]

बोलs आखिर काहे ना तू वादा निभइलु
काहे खातिर झूठहु के किरिया तू खइलू
दिल का दर्द छुपाना कितना मुश्किल है
गम में मुस्कुराना कितना मुश्किल है
दिल का दर्द छुपाना कितना मुश्किल है
गम में मुस्कुराना कितना मुश्किल है
दूर तक जब चलो किसी के साथ
फिर तनहा लौट के आना कितना मुश्किल है

बोलs आखिर काहे ना तू वादा निभइलु
काहे खातिर झूठहु के किरिया तू खइलू
दिल के जखम पs दरे खातिर नून भेज दी
दिल के जखम पs दरे खातिर नून भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी

[म्यूजिक..]

लेजा ऐ करेजा मोर करेजवे निकाल के
कबो जनि याद करिहs अपना विशाल के
टुटा हो दिल तो दुःख होता है
करके मोहब्बत किसी से ये दिल रोता है
अरे टुटा हो दिल तो दुःख होता है
करके मोहब्बत किसी से ये दिल रोता है
दर्द का एहसास तो तब होता है
जब किसी से मोहब्बत हो
और उसके दिल में कोई और होता है

हो लेजा ऐ करेजा मोर करेजवे निकाल के
कबो जनि याद करिहा अपना विशाल के
हरदम खुश रहs उहे मानसून भेज दी
हरदम खुश रहs उहे मानसून भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी
मेंहदी कम पड़ता तs कहs खून भेज दी