Bina Mausam Ke Badra (Pawan Singh) Lyrics

Pawan Singh और Sadhana Sargam का यह गाना उनकी फिल्म Gathbandhan Pyar Ke (गठबंधन प्यार के) का है जिसका नाम है – बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो (Bina Mausam Ke Badra Baras Gail Ho) | इस गाना को लिखे है Vinay Bihari & R.R Pankaj जी जबकि म्यूजिक दिए है Pappu Shriwatav जी | इस गाना को Wave Music यूट्यूब चैनल से रिलीज़ किया गया है | निचे आप इस गाना को सुन सकते है –

Piritiya Kitna Satai (Pawan Singh) Lyrics

बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो – लिरिक्स

हे हे हे हे ला ला ला ला ….!
आ आ आ हु हु हु ….!
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो

[म्यूजिक..]

पहिला मोहब्बत के एहसास होता
दिलवा से दिलवा के सब बात होता
पहिला मोहब्बत के एहसास होता
दिलवा से दिलवा के सब बात होता
होठवा खामोश बाटे झुकल नजरिया
धीरे धीरे बढ़ल जाता प्यार के लहरिया
प्यार के लहरिया
प्यार के आग अचके धधक गईल हो
प्यार के आग अचके धधक गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो

[म्यूजिक..]

मनवा में जागल बा अईसन खुमार हो
लागता की टूट जाई हद के दीवार हो
मनवा में जागल बा अईसन खुमार हो
लागता की टूट जाई हद के दीवार हो
चाहत बा दिलवा के मिट जाए दुरी
बानी लाचार कुछ बाटे मजबुरी
बाटे मजबुरी
देखी कलियाँ के भौरा सनक गईल हो
हमरा मनवा के बगिया महक गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
अनजाने में मनवा बहक गईल हो
बिना मौसम के बदरा बरस गईल हो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *