Barsaat Ki Dhun (Jubin Nautiyal) Lyrics

Barsaat Ki Dhun Is Latest Hindi Song Sung By Jubin Nautiyal. Featuring Artist In This Video Are Jubin Nautiyal, Gurmeet Choudhary & Karishma Sharma. This Song Is Written By Rashmi Virag While Music Given By Rochak Kohli. It’s Released By T-Series Youtube Channel.

Barsaat Ki Dhun

Lyrics In Hindi :-

आओ एक भीगी हुई सी कहानी सुनाता हूँ
जब आसमान से बूँदें नहीं
मोहब्बत बरसी थी
बरसात ने ऐसी धुन छेड़ी
जिसके लिए जिंदगी सदियों तरसी थी

किसी शायर का दिल बनके
बरसती हैं बूँदें तुमपे
किसी शायर का दिल बनके
बरसती हैं बूँदें तुमपे
नजारा उफ्फ क्या होता है
गुजरती हैं जब जुल्फों से
दूर कहीं अब जाओ ना तुम
सुन सुन बरसात की धुन सुन
सुन सुन बरसात की धुन सुन
दिल में यही एक गम रहता है
साथ मेरे तू कम रहता है
हाँ दिल में यही एक गम रहता है
साथ मेरे तू कम रहता है
छोड़ के अभी जाओ ना तुम
सुन सुन बरसात की धुन सुन

[म्यूजिक..]

हाँ धीरे धीरे हौले हौले
भीगा देंगी ये बरसातें
हो धीरे धीरे हौले हौले
भीगा देंगी ये बरसातें
जाने कहाँ फिर मिलेंगी
हमें ऐसी मुलाकातें
संभालू कैसे मैं दिल को
दीवाना चाहे बस तुमको
ख्वाईशों में ही जल रहा हूँ मैं यहाँ
वो पहली सी बारिश बनके
बरस जाओ ना तुम हमपे
हवा का रुख बदल जाये
मोहब्बत करना तुम ऐसे
ख्वाब मेरा ये तोड़ो ना तुम
हो ओ ओ ओ …!

[म्यूजिक..]

जिस्मों से बरसती बारिश
ने रूह बिगाड़ी है
इस मौसम की साजिश ने
ये नींदें उड़ा दी है
वैसे तो डुबाने को बस
इक बूँद ही काफी है
सोचो तो जरा क्या होगा
अभी रात ये बाकी है
साथ मेरे बह जाओ ना तुम
सुन सुन बरसात की धुन सुन
सुन सुन बरसात की धुन सुन
बिजली चमकी लिपट गए हम
बादल गरजा सिमट गए हम
बिजली चमकी लिपट गए हम
बादल गरजा सिमट गए हम
होश भी हो जाने दो गुम
सुन सुन बरसात की धुन सुन
सुन सुन बरसात की धुन सुन
सुन सुन बरसात की धुन सुन

Lyrics In English :-

Aao Ek Bhigi Huyi Si Kahani Sunata Hun
Jab Aasman Se Bunde Nahi
Mohabbat Barsi Thi
Barsat Ne Aisi Dhun Chhedi
Jiske Liye Jindagi Sadiyo Tarsi Thi

Kisi Shayar Ka Dil Banke
Barasti Hai Bunde Tumpe
Kisi Shayar Ka Dil Banke
Barasti Hai Bunde Tumpe
Najara Uff Kya Hota Hai
Gujarti Hai Jab Julfo Se
Dur Kahi Ab Jawo Na Tum
Sun Sun Barsaat Ki Dhun Sun
Sun Sun Barsaat Ki Dhun Sun
Dil Me Yahi Ek Gum Rahta Hai
Sath Mere Tu Kam Rahta Hai
Ha Dil Me Yahi Ek Gum Rahta Hai
Sath Mere Tu Kam Rahta Hai
Chhod Ke Abhi Jawo Na Tum
Sun Sun Barsaat Ki Dhun

[Music..]

Ha Dhire Dhire Haule Haule
Bhiga Dengi Ye Barsaate
Ho Dhire Dhire Haule Haule
Bhiga Dengi Ye Barsaate
Jaane Kaha Fir Milengi
Hume Aisi Mulakaate
Sambhalu Kaise Main Dil Ko
Deewana Chahe Bas Tumko
Khwahiso Me Hi Jal Raha Hun Main Yaha
Wo Pahli Si Baarish Banke
Baras Jao Na Tum Humpe
Hawa Ka Rukh Badal Jaye
Mohabbat Karna Tum Aise
Khwab Mera Ye Todo Na Tum
Ho O O O …!

[Music..]

Jismo Se Barasti Baarish
Ne Ruh Bigadi Hai
Is Mausam Ki Saajish Ne
Ye Neende Uda Di Hai
Waise To Dubane Ko Bas
Ek Bund Hi Kaafi Hai
Socho To Jara Kya Hoga
Abhi Raat Ye Baki Hai
Sath Mere Bah Jawo Na Tum
Sun Sun Barsaat Ki Dhun Sun
Sun Sun Barsaat Ki Dhun Sun
Bijali Chamki Lipat Gaye Hum
Badal Garja Simat Gaye Hum
Bijali Chamki Lipat Gaye Hum
Badal Garja Simat Gaye Hum
Hosh Bhi Ho Jane Do Gum
Sun Sun Barsaat Ki Dhun Sun
Sun Sun Barsaat Ki Dhun Sun
Sun Sun Barsaat Ki Dhoon Sun